99 फ़ीसदी हार्ट ब्लॉकेज को रिमूव करता है इस पेड़ का पत्ता। हार्ड की बीमारियां इसका प्रयोग एक बार अवश्य करें।

हार्ट ब्लॉकेज की बीमारी एक खतरनाक और घातक बीमारी है। इस बीमारी की वजह से प्रति साल लाखों लोगों की जान जाती है। हार्ट ब्लॉकेज से निजात पाने के लिए ऑपरेशन की जरूरत होती है। जिसमें लाखों रुपए की खर्चे आता है। जिन लोगों के पास लाखों रुपए नहीं होते हैं उनका जान खतरे में पड़ जाता है। दोस्तों इसी वजह से मैं आपके सामने एके आ चुके रामबाण नुस्खा लेकर के आया हूं। यह नुस्खा उन लोगों के लिए अमृत के समान है जो हार्ट ब्लॉकेज बीमारी से जूझ रहे हैं। यह के पेड़ की पत्ती है जिसका प्रयोग करने से आप हार्ट ब्लॉकेज जैसी बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं।
पीपल का पत्ता,
यह नुस्खा पीपल के पत्ता से तैयार किया जाता है। पीपल का वृक्ष लगभग सभी जगह पाए जाते हैं। इस पेड़ में भगवान विष्णु का साक्षात वास माना जाता है। जिन व्यक्तियों के ऊपर शनि ग्रह का प्रकोप हो जाता है वह सुबह-सुबह पीपल के वृक्ष में जल देते हैं। इस प्रकार उनका शनि का प्रकोप कम हो जाता है। अब आप जान चुके हैं कि पीपल का वृक्ष और पत्ता कितना लाभदायक होता है।
नुस्खा तैयार करने की विधि
इस नुस्खा को तैयार करने के लिए आपको पीपल के 5 या 6 पत्नियां तोड़ना होगा। ध्यान रहे की पत्ती कोमल और पूरी तरह से तैयार हो। इन पत्तियों को किनारे किनारे से काट कर निकाल दे। बीच वाली भाग को अच्छी तरह से पानी में धो लें। अब एक गिलास पानी में इन पत्तियों को डालकर धीरे-धीरे गर्म करें। जब पानी एक तिहाई बच जाए तो आंच से उतार कर नीचे रख दें। ठंडा होने के बाद इसे तीन खुराक बनाएं। इस काढा को सुबह शाम 12:00 ले सकते हैं। हार्ट अटैक आने के एक-दो दिन बाद इस अनुष्का का प्रयोग करें। लगातार एक महीना तक इसका प्रयोग करने से आपका हाथ फिर स्वस्थ हो जाएगा और भविष्य में कभी भी हार्ट ब्लॉक की समस्या नहीं आएगी।
उपचार के समय में क्या करें और क्या ना करें।
1, पीपल के पत्ते दिल को मजबूत और स्वस्थ बनाता है।
2, इस पीपल के काढ़े की तीन खुराक बनाएं।
3, खुराक लेने से पहले पेट बिल्कुल खाली नहीं होनी चाहिए। थोड़ी सी सुपाच्य भोजन अवश्य करें।
4, प्रयोग काल में तली चीजें चावल मांस मछली अंडे शराब तथा धूम्रपान बिल्कुल बंद कर दें।
5, अनार पपीता लहसुन मैथी दाना तथा काले चने रात में भिगोकर खाएं।
अब आप समझ गए होंगे कि पीपल के पत्ता हार्ट आकार का क्यों होता है।
आपको यह भी पसंद आ सकता है,अब काला मां-बाप का बच्चा भी गोरा होगा

Jagdish Ray

मैं जगदीश यादव मूल रूप से बिहार के रहने वाला हूं। मैं अपनी इस साइट पर सरकारी नौकरी तथा प्राइवेट नौकरी की जानकारी सबसे पहले देता हूं। रोजगार की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमें फॉलो करें क्योंकि नौकरी की खबर सबसे पहले आप तक पहुंच सके।

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for

और नया पुराने