सोशल मीडिया के घरेलू नुस्खे बीमार बना रहे हैं, इलाज के गलत तरीके वायरल हो रहे हैं।

कहां जाता है कि किचन स्वास्थ्य का खजाना होता है। बात भी सही है कुछ घरेलू नुस्खे कई बीमारियों के इलाज में कारगर भी है लेकिन यह हमेशा सच नहीं है। बिना पर्याप्त जानकारी के घरेलू नुस्खे का प्रयोग बड़ी बीमारियां पैदा कर देता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी जारी की है कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है सारे नुस्खे प्रमाणित नहीं है। ऐसे में बिना जानकारी किसी भी नुस्खे का प्रयोग ना करें। किसी भी नुस्खे का प्रयोग करने से पहले एक बार डॉक्टर से परामर्श जरूर ले लें।
जलने पर मक्खन ना लगाए।
जलने पर त्वचा संवेदनशील हो जाती है। ऐसे में कुछ लोग जले पर मक्खन लगाने की सलाह देते हैं। इससे संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। बैक्टीरिया आसपास भी फैल जाते हैं।
हार्ट के मरीज को नमकीन पानी ना पिलाए।
दिल के मरीज को सीने में दिक्कत होने पर नमकीन वाली चीज पिलाने लगते हैं। ज्यादा नमक से बीपी अचानक बढ़ जाता है जिससे हार्ट अटैक की आशंका बढ़ जाती है।
मुंहासों पर टूथपेस्ट ना लगाए,
टूथपेस्ट में कई तरह के केमिकल्स होते हैं। इन्हें मुंहासों पर लगाने से बैक्टीरिया और पनपने लगते हैं। जिसकी वजह से स्किन प्रॉब्लम हो सकती है।
धागे से मसा ना काटे।
सोशल मीडिया पर देखकर मास को धागे या पतले तार या ब्लेड से कटने कटने है। काटने के दौरान धागे या तार में मौजूद बैक्टीरिया त्वचा के अंदर पहुंच जाते हैं।
घाव पर कपड़ा ना बंधे।
घाव पर मोटा कपड़ा बांधने से भी संक्रमण बढ़ सकता है। इससे घाव को हवा नहीं लगती जिस घाव में बैक्टीरिया पनपना लगते हैं और घाव ठीक होने में ज्यादा समय लेता है।
पीलिया में चूने का पानी न पिए।
पीलिया होने पर कुछ लोग मरीज को छूने का पानी पिलाने लगते हैं। इससे पीलिया ठीक नहीं होता उल्टे इसमें मौजूद केमिकल से इंसान और बीमार पड़ जाता है।

Jagdish Ray

मैं जगदीश यादव मूल रूप से बिहार के रहने वाला हूं। मैं अपनी इस साइट पर सरकारी नौकरी तथा प्राइवेट नौकरी की जानकारी सबसे पहले देता हूं। रोजगार की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमें फॉलो करें क्योंकि नौकरी की खबर सबसे पहले आप तक पहुंच सके।

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for

और नया पुराने